क्रिप्टो करंसी

बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं

बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं

Bitcoin Mining क्या है और कैसे करें ?

दोस्तों आप सभी के मन में हमेशा एक सवाल रहता होगा की बिटकॉइन क्या है? यह कैसे काम करता है? और इसको कहाँ पर स्टोर किया जाता है? आज की दुनियाँ में जिस तरह इस इंटरनेट अपना जाल बिछाता जा रहा है उसके माध्यम से जिंदगी बहुत ही आसान हो गई है । हम घर बैठे कुछ भी काम अनलाइन कर पा रहे हैं । खरीदने और बेचने तक सारे काम इंटरनेट के माध्यम से कर लेते हैं । इंटरनेट से लोग पैसे भी काम रहे है ।

खासकर कोरोना संकट में सोशल दूरी बरकरार रखने हेतु वर्क फ्रॉम होम का कल्चर बहुत ज्यादा बढ़ रहा है । बहुत सारे अवसर इस क्षेत्र में विकसित हो रहे हैं । इन्ही में से एक अवसर है Bitcoin. इसके माध्यम से आप अच्छा खासा पैसा बना सकते हैं ।इसका बड़े पैमाने पर ग्लोबलाईजेसन हो रहा है ।

बिटकॉइन माइनिंग क्या है?

सामान्य भाषा में देखें तो माइनिंग का मतलब होता है खुदाई करके खनिजों का पाना या निकालना जैसे कोयला,सोना और हीरा आदि। चूंकि इनका भौतिक रूप होता है इसलिए इनको हम छु या देख सकते हैं लेकिन बिटकॉइन का कोई रूप आकार तो होता बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं नहीं है अतः इसकी खुदाई आदि परंपरागत तरीके से नहीं हो सकती है। इसलीय यहाँ माइनिंग की मतलब है बिटकॉइन आभासी मुद्रा का निर्माण कंप्युटर के माध्यम से करना । इसलिए इसको बिटकॉइन माइनिंग कहा जाता है ।

यह एक ऐसा प्रोसेस होता है कम्प्यूटिंग पावर का इस्तेमाल किया जाता है और फिर ट्रांजेकसन किया जाता है । इसको माइनरस् करने के लिए एक स्ट्रॉंग स्पेशल हार्डवेयर की जरूरत पड़ती है । इसके लिए कंप्युटर की प्रोसेसिंग शक्तिशाली होना चाहिए । इसके अतिरिक्त देखा जाए तो बिटकॉइन माइनिंग सॉफ्टवेयर की भी जरूरत पड़ती है । आपको बता दें की इसके Transaction को कंप्लीट करने वाले माइनर्स को फीस के रूप में बिटकॉइन ही दिया जाता है। यह थोड़ा कठिन प्रक्रिया होती है जिसको कंप्लीट करने के लिए गणितीय प्रणाली स्ट्रॉंग होनी चाहिए ।

जैसा की हमने आपको पहले ही बताया है की बिटकॉइन का प्रयोग अनलाइन लेन-देन और Transaction के लिए किया जाता है। जब भी कभी आप पेमेंट करते हैं तो उस Transaction को verify करना पड़ता है जिसके लिए हाई स्पीड परफॉरमेंस कंप्युटर और ग्राफिक्स प्रोसेसिंग unit की जरूरत पड़ती है । अब माइनर्स इस Transaction को verify करता है।

इसमें अब माइनर्स Transaction को जब verify कर लेता है तो इसको प्रोसेस बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं करता है । आपको बता दें की इसके Transaction को कंप्लीट करने वाले माइनर्स को फीस के रूप में बिटकॉइन ही दिया जाता है।यह भी नए बिटकॉइन को मार्केट में लाने का काम करते हैं ।

हालांकि यह कोई भी काम कर सकता है लेकिन इसके लिए काफी स्ट्रॉंग सिस्टम चाहिए और गणितीय विद्या भी स्ट्रॉंग होनी चाहिए । क्योंकि इसका calculation बहुत ही तेजी से करना पड़ता है । अगर थोड़ा भी लेट हुआ तो समय की बर्बादी होती है और साथ ही ऊर्जा की खपत बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं होती है ।

बिटकॉइन माइनिंग का उद्देश्य

बिटकॉइन माइनिंग का प्रमुख उद्देश्य है बिटकॉइन नोड्स को सुरक्षित रखना । इसके अलावा नेटवर्क को किसी प्रकार के व्यवधान से दूर रखना । इसका सुरक्षा इसलिए और ज्यादा इसलिए है की वर्तमान में इसका महत्व और अधिक बढ़ता जा रहा है ।

बिटकॉइन की सबसे छोटी इकाई “सातोशी” कहा जाता है । एक बिटकॉइन बराबर दस करोड़ सतोशि होता है ।

बिटकॉइन कमाने के तरीके

आपको बात दें की बिटकॉइन कमाने के तीन तरीके हैं जिसका प्रयोग करके आप बिटकॉइन आसानी से कमा सकते हैं ।

  • जब भी आप कोई भी समान अनलाइन बेच रहे हैं तो आप उस खरीदार से ये जरूर कन्फर्म कर लें की उसके पास बिटकॉइन है । अगर उसके पास बिटकॉइन है तो आप पैसे के बदले में उससे बिटकॉइन ले लें और अपने पास सुरक्षित वॉलेट में स्टोर कर लें। इसको आप अपने लोकल कररेंसी यानि की रुपये के माध्यम से खरीद सकते हैं ।
  • आप डायरेक्ट बिटकॉइन कुछ Authorise वेबसाईट से भी खरीद सकते हैं । आप चाहें तो इसकी छोटी इकाई सातोशी भी खरीद सकते हैं । एक बिटकॉइन में दस करोड़ ‘Satoshi’ होता है जैसे भारतीय एक रुपया में 100 पैसे होता है । ऐसे ही आप धीरे धीरे Satoshi एकट्ठा कर लेना चाहिए और जब एक बिटकॉइन हो जाए और उसका दाम बढ़ जाए तो उसको बेच दें ।
  • बिटकॉइन खरीदने का तीसरा तरीका है की आप बिटकाइन माइनिंग भी करके आप इसको earn कर सकते हैं ।इसके लिए स्ट्रॉंग और हाई स्पीड वाले प्रोसेसर होना चाहिए ।

बिटकॉइन का मार्केट वैल्यू कैसे बढ़ता है?

आपको बता दें की बिटकॉइन का मार्केट वैल्यू मुख्य रूप से दो बातों पर निर्भर करता है । एक तो आपूर्ति और दूसरा उसकी मांग । बिटकॉइन का विस्तार भी सीमित मात्रा में है अर्थात इसकी माइनिंग बहुत ही सीमित मात्रा में हो पाता है । अतः जब आपूर्ति ज्यादा होती है तो इसकी मांग कम हो जाती है और जब आपूर्ति कम होती है तो इसकी मांग पर बहुत ज्यादा असर पड़ता है । भारत में इसका मूल्य बहुत ज्यादा है । प्रत्येक देश में देखा जाए तो नोट छापने के लिए एक लिमिट तैयार किया गया है वैसे ही बिटकॉइन को मार्केट में उतारने के लिए कुछ लिमिट तैयार किया गया है । वैसे एक आँकड़े के मुताबिक बिटकॉइन की लिमिट सिर्फ 21 million ही है ।

बिटकॉइन खरीदने के उपाय

बिटकॉइन खरीदने के लिए कुछ आसान तरीका हम बताएंगे । इसकी खरीदारी आप इंडियन रुपये में कर सकते हैं। जैसे आप सोने की खरीदारी करते हैं वैसे ही आप इसको भी खरीद सकते हैं । आप आए दिन ऑनलाइन पेमेंट के माध्यम से खरीद बिक्री किए ही होंगे । इसकी खरीद बिक्री आप लोग वेबसाईट और मोबाईल एप के माध्यम से कर सकते हैं । हम आप लोगों के कुछ ऐसे पोपुलर वेबसाईट का नाम बताएंगे जिसके द्वारा आप लोग आसानी से इसकी खरीद बिक्री कर सकते हैं । इसके लिए दो वेबसाईट है-प्रथम Unocon और दूसरा है-Zebpay. Unocon-www.unocoin.com & www.jebpay.com

आज हमने इस लेख में आपको बताया की bitcoin माईनिंग क्या होता है और इसकी क्या इम्पॉर्टन्ट है । आशा है की आप लोगों को ये लेख पसंद आया होगा अगर आपको बिटकॉइन माइनिंग के बारे में कुछ कमी लगी होगी या आपको समझ नहीं आया होगा तो आप जरूर कमेन्ट करके पूछें । दूसरे लेख में हमने बिटकॉइन के बारे में विस्तार से समझाया है आप उसको जरूर एक बार पढ़ें ।

कैसे खरीदते हैं क्रिप्टोकरेंसी और कहां करते हैं स्टोर, भारत में क्या है लीगल स्टेटस? यहां जानें हर बात

क्रिप्टोकॉइन्स और टोकन्स आप अपने क्रिप्टो वॉलेट में स्टोर कर सकते हैं. क्रिप्टो वॉलेट्स तीन तरह के होते हैं- हॉट, कोल्ड और पेपर वॉलेट.

  • Paurav Joshi
  • Publish Date - October 14, 2021 / 03:52 PM IST

कैसे खरीदते हैं क्रिप्टोकरेंसी और कहां करते हैं स्टोर, भारत में क्या है लीगल स्टेटस? यहां जानें हर बात

क्रिप्टोकरेंसी को लेकर आजकल खूब चर्चा हो रही है. बिटक्वॉइन (Bitcoin) के एक क्रिप्टोकरेंसी है. क्रिप्टोकरेंसी शुरुआत में बस प्रोग्रामर्स और डेवलपर्स के दिलचस्पी की चीज थी, लेकिन अब इसकी पॉपुलैरिटी इतनी बढ़ गई है कि अब सामान्य व्यक्ति भी इसमें निवेश करने की सोच रहा है. इस आर्टिकल में हमको आप इसी क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के बारे में विस्तार से बारे में बताएंगे.

क्रिप्टो कैसे खरीदें और बेचें?

बाजार में ढेरों क्रिप्टो एक्सचेंज प्लेटफॉर्म्स हैं. ऐसे में देश में Bitcoin और Dogecoin जैसी क्रिप्टोकरेंसी को खरीदना और बेचना काफी आसान है. देश में मौजूद पॉपुलर प्लेटफॉर्म्स में WazirX, Zebpay, Coinswitch Kuber और CoinDCX GO के नाम शामिल हैं. इन्वेस्टर्स Coinbase और Binance जैसे इंटरनेशनल प्लेटफॉर्म्स से Bitcoin, Dogecoin और Ethereum जैसी दूसरी क्रिप्टोकरेंसी भी खरीद सकते हैं.

शेयर बाजारों के उलट, ये सभी प्लेटफॉर्म चौबीसों घंटे काम करते हैं. इसका मतलब ये है कि आप हफ्ते में किसी भी दिन और दिन के किसी भी समय पैसे का निवेश और निकासी कर सकते हैं. क्रिप्टोकरेंसी को खरीदने और बेचने की प्रक्रिया भी काफी आसान है. आपको केवल इन प्लेटफॉर्म्स पर साइन अप करना होगा. इसके बाद अपना KYC प्रोसेस पूरा कर वॉलेट में मनी ट्रांसफर करना होगा. इसके बाद आप खरीदारी कर पाएंगे. इन्वेस्टर्स के पास क्रिप्टो की खरीदी-बिक्री के लिए प्री-डिसाइडेड लिमिट सेट करने का भी ऑप्शन होगा.

एक्सचेंज का इस्तेमाल करना

सभी बड़े एक्सचेंज लगभग एक ही प्रोसेस फॉलो करते हैं. आपको एक अकाउंट बनाने की जरूरत होगी, फिर भारत स्थित एक्सचेंज आपको KYC वेरिफिकेशन करने को बोलेंगे. जिसके बाद आप ट्रेडिंग शुरू कर सकते हैं. इसके लिए आप अपना बैंक अकाउंट अपने क्रिप्टो अकाउंट से लिंक कर सकते हैं. या बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं फिर ट्रांजैक्शन के लिए सीधे डेबिट/क्रेडिट कार्ड या नेटबैंकिंग का इस्तेमाल कर सकते हैं. जब लॉगइन और अकाउंट सेटअप का पूरा प्रोसेस कंप्लीट हो जाएगा, तो आपका एक्सचेंज बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं आपको पहला ऑर्डर प्लेस करने के लिए नोटिफाई कर देगा.

क्रिप्टोकरेंसी स्टोर कैसे करें?

अगर आप किसी भी क्रिप्टोकरेंसी की कीमत पर नजर डालें तो देखेंगे कि बिटकॉइन और एथर जैसे कॉइन्स ने लंबे समय में ज्यादा रिटर्न दिया है. इसका मतलब है कि उनकी वैल्यू बढ़ने तक के लिए आपको इन्हें स्टोर करना होगा. क्रिप्टोकॉइन्स और टोकन्स आप अपने क्रिप्टो वॉलेट में स्टोर कर सकते हैं. क्रिप्टो वॉलेट्स तीन तरह के होते हैं- हॉट, कोल्ड और पेपर वॉलेट. इनमें से आपको कोई भी वॉलेट अपनी जरूरत के हिसाब से चूज़ करना होगा.

भारत में क्रिप्टोकरेंसी का लीगल स्टेटस

भारत में क्रिप्टोकरेंसी के लीगल स्टेटस को लेकर बहुत कन्फ्यूजन है. ऐसा इसलिए क्योंकि सरकार ने इस साल की शुरुआत में एक बिल प्रस्तावित किया था, जिसमें Bitcoin और Dogecoin सहित सभी क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबंध लगाने का प्रावधान था. हालांकि, बाद में इसमें और कोई डेवलपमेंट नहीं हुआ. एक हालिया रिपोर्ट में ये भी दावा किया गया था कि सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी को पूरी तरह से बैन करने का आइडिया ड्रॉप कर दिया है.

Cryptocurrency: दिल्ली में शुरू हुआ क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल, अब रेस्टोरेंट में बिटकॉइन से खरीद सकेंगे थाली

Cryptocurrency: पिछले साल के मुकाबले भारतीय लोगों में क्रिप्टोकरेंसी का क्रेज काफी तेजी से बढ़ रहा है। इस करेंसी मे अब लाखों लोगों ने निवेश करना शुरू कर दिया है। हालांकि देश में फिलहाल क्रिप्टोकरेंसी का कोई रेगुलेशन नहीं है, इसके बाद भी बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं हर रोज नए निवेशक क्रिप्टो मार्केट से जुड़ रहे हैं।

Cryptocurrency

नई दिल्ली। पिछले साल के मुकाबले भारतीय लोगों में क्रिप्टोकरेंसी का क्रेज काफी तेजी से बढ़ रहा है। इस करेंसी बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं मे अब लाखों लोगों ने निवेश करना शुरू कर दिया है। हालांकि देश में फिलहाल क्रिप्टोकरेंसी का कोई रेगुलेशन नहीं है, इसके बाद भी हर रोज नए निवेशक क्रिप्टो मार्केट से जुड़ रहे हैं। जिसे देखते हुए दिल्ली के कुछ बिजनेसमैन ने क्रिप्टोकरेंसी लेना शुरू कर दिया है। यानी अब दिल्ली में भी क्रिप्टोकरेंसी के जरिए लेन-देन करना शुरू कर दिया गया है। यानी अब दिल्ली में टैटू या फिर खाने की थाली के लिए आप अपने कार्ड, कैश या डिजिटल पेमेंट की जगह बिटकॉइन, इथीरियम, डैश, डोजेकॉइन जैसी वर्चुअल क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Bitcoin India

बिटकॉइन की कीमत काफी ऊपर
साल 2020 की तुलना में बिटकॉइन की कीमतें अभी भी काफी ऊपर ट्रेंड कर रही हैं। लोगों का बिटकॉइन पर बढ़ता भरोसा देखते हुए अब क्रिप्टोकरेंसी के लेन-देन शुरू कर दिया है। इस पर दुकानदारों का कहना है कि यह एक अलग ही तरह का एक्सपीरियंस है।

bitcoin

लॉन्च की गई क्रिप्टो थाली
वहीं अब रेस्टोरेंट में भी क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल किया जा रहा है। यानी अब रस्टोरेंट में भी क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल करके खाने की थाली खरीदी जा सकती है। हालांकि भारत में फिलहाल क्रिप्टोकरेंसी को कानूनी मान्यता नहीं मिली है। लेकिन क्रिप्टो बाजार की ओर बढ़ते लोगों के क्रेज को देखते हुए दुकानदारों ने इसका इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। लोगों का कहना है कि यदि हम ही नई जनरेशन का साथ नहीं देंगे तो भविष्य कैसे सफल होगा।

क्रेडिट कार्ड, पेपाल या वायर ट्रांसफर का उपयोग करके बिटकॉइन कैसे खरीदें

यदि आप अपना वास्तविक नाम दिए बिना बिटकॉइन खरीदना चाहते हैं, तो दो विकल्प हैं: नकद और एक एस्क्रो सेवा। लेन-देन करने के लिए आप अपने क्रेडिट कार्ड या पेपाल खाते का भी उपयोग कर सकते हैं। लेकिन अगर आप गुमनाम रूप से बिटकॉइन खरीदना चाहते हैं, तो आपको पहले वाले तरीके से बचना होगा और नकदी के साथ रहना होगा। क्रेडिट कार्ड, पेपाल या वायर ट्रांसफर से बिटकॉइन कैसे खरीदें, यह जानने के लिए आगे पढ़ें। ये तरीके नकदी से ज्यादा सुरक्षित हो सकते हैं।

बिटकॉइन को गुमनाम रूप से खरीदने का एकमात्र तरीका नकद है

साथ बिटकॉइन खरीदना आपकी पहचान को निजी रखने के कुछ तरीकों में से एक है। हालांकि ऑनलाइन पूरी तरह से गुमनाम रहना संभव नहीं है, आप बड़ी मात्रा में नकद खरीद सकते हैं। यदि आप जल्दी में हैं तो आप बिटकॉइन एटीएम का उपयोग नकदी के साथ बिटकॉइन खरीदने के लिए कर सकते हैं। आप सीधे अपने बैंक खाते का उपयोग करके बिटकॉइन भी खरीद सकते हैं और इसे टम्बल कर सकते हैं। बिटकॉइन खरीदने की इस पद्धति का उपयोग करते समय आपको सावधान रहना चाहिए क्योंकि आप अपनी पहचान के चोरी होने का जोखिम उठाते हैं।

आईडी सत्यापन से बचने का एकमात्र वास्तविक तरीका नकद के माध्यम से गुमनाम रूप से बिटकॉइन खरीदना है। आईडी सत्यापन के बिना बिटकॉइन खरीदने का एकमात्र तरीका पी 2 पी इंटरैक्शन या नकद है। हालाँकि, ये दोनों तरीके जोखिम भरे हैं। नकद खरीद घोटालों और डकैतियों का लक्ष्य हो सकता है। एस्क्रो की वजह से पी2पी इंटरेक्शन कैश से ज्यादा सुरक्षित हो सकता है, लेकिन बुरे एक्टर्स अभी भी बाहर हैं। बिटकॉइन को नकद में खरीदते समय, सुनिश्चित करें कि आप एक सुरक्षित भुगतान विधि प्रदान करने वाले विक्रेता को चुनने में सावधानी बरत रहे हैं।

क्रेडिट कार्ड से बिटकॉइन खरीदना क्रेडिट कार्ड

का उपयोग करके बिटकॉइन खरीदना आसान है यदि आप जानते हैं कि क्या करना है। सबसे पहले, एक खाते के लिए साइन अप करें। अधिकांश एक्सचेंज क्रेडिट कार्ड स्वीकार करते हैं, लेकिन आपको अपना खाता स्वीकृत कराने के लिए एक वैध सरकारी आईडी और अन्य दस्तावेज अपलोड करने पड़ सकते हैं। फिर आपको उस राशि को इनपुट करना होगा जिसे आप खरीदना चाहते हैं और लेनदेन पूरा करना चाहते हैं। वैकल्पिक रूप से, आप डेबिट कार्ड से भुगतान कर सकते हैं। किसी भी तरह से, क्रेडिट कार्ड से बिटकॉइन खरीदना सरल है।

क्रेडिट कार्ड से क्रिप्टो खरीदना ऑनलाइन अन्य खरीदारी करने के समान है। सबसे पहले, एक एक्सचेंज का पता लगाएं जो आपके क्रेडिट कार्ड को स्वीकार करता है और साइन अप करता है। आपके पास एक खाता होने के बाद, वह क्रिप्टोक्यूरेंसी चुनें जिसे आप खरीदना चाहते हैं, और अपनी कार्ड जानकारी दर्ज करें। एक बार खरीदारी पूरी हो जाने के बाद, आपका कार्ड जारीकर्ता आपसे लेनदेन बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं शुल्क लेगा, जो कि 3% या अधिक है। हालांकि, आप एक एक्सचेंज ढूंढ सकते हैं जो बिना किसी समस्या के आपके कार्ड को स्वीकार करता है।

तत्काल बढ़त के साथ बिटकॉइन खरीदना बिटकॉइन खरीद

साथ लाभ के यह है कि आपके पास मिनटों में बिटकॉइन हो सकता है। क्रिप्टोक्यूरेंसी की अवधारणा नई नहीं है, लेकिन बिटकॉइन की लोकप्रियता 2017 में आसमान छू गई है और यह अगली बड़ी बात हो सकती है। बिटकॉइन को या तो खनन किया जा सकता है या देश और इस्तेमाल किए गए एक्सचेंज के आधार पर अलग-अलग कीमत के साथ खरीदा जा सकता है। बिटकॉइन का उपयोग करने का मुख्य लाभ यह है कि समय के साथ इसके मूल्य में बहुत अधिक परिवर्तन होने की संभावना नहीं है।

पेपैल पेपैल के साथ बिटकॉइन खरीदना बिटकॉइन

खरीदने का विकल्प प्रदान करता है। यदि आप अधिकांश यूएस में स्थित हैं, तो आप “क्रिप्टो के साथ चेकआउट” विकल्प के साथ बिटकॉइन खरीद सकते हैं। सिक्के खरीदने के लिए, आपको अपना पूरा नाम, पता, जन्म तिथि और कर पहचान संख्या दर्ज करनी होगी। विनिमय दर और लेनदेन शुल्क आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित होंगे। फिर, बस पुष्टि करें कि आपका भुगतान जमा करने से पहले आपके सिक्के पेपाल डैशबोर्ड पर उपलब्ध हैं।

आप बिटकॉइन को पेपाल से खरीद सकते हैं, लेकिन आप इसे केवल पेपाल-स्वीकार करने वाली वेबसाइट से ही खरीद सकते हैं। क्रिप्टोकुरेंसी खरीद के लिए आपको एक फ्लैट शुल्क या कुल लेनदेन राशि का प्रतिशत देना होगा, जो कि नकद स्वीकार करने के लिए किराने का भुगतान करने के समान है। पेपैल के साथ बिटकॉइन खरीदना क्रिप्टोकुरेंसी हासिल करने और इसे अपने पेपैल बैलेंस के साथ खरीदने का एक सुविधाजनक तरीका है। वर्तमान में, केवल कुछ ही तृतीय-पक्ष वेबसाइटें उपयोगकर्ताओं को क्रिप्टोकरेंसी खरीदने के लिए अपने पेपाल बैलेंस का उपयोग करने की अनुमति देती हैं।

वायर ट्रांसफर के साथ बिटकॉइन खरीदना वायर ट्रांसफर

के साथ बिटकॉइन खरीदने के कई फायदे हैं। लेन-देन तत्काल है, और आप बिटकॉइन खरीदने के लिए बैंक खाते का उपयोग करके समय और पैसा बचा सकते हैं। एक्सचेंज 1.49% लेनदेन शुल्क लेता है और SEPA और SWIFT भुगतान विकल्प प्रदान करता है। यदि आप किसी वित्तीय संस्थान के सदस्य नहीं हैं, तो आप इसके बजाय ACH या SEPA स्थानांतरण कर सकते हैं। फिर, आप बस अपना बैंक खाता नंबर इनपुट कर सकते हैं और अपने नए बिटकॉइन वॉलेट में धनराशि भेज सकते हैं।

साथ बिटकॉइन या एथेरियम खरीदना t he-ethereumcode-pro अन्य भुगतान विकल्पों की तुलना में सस्ता है, लेकिन कुछ लोगों के लिए यह बिटकॉइन कैसे खरीद सकते हैं कम सुविधाजनक है। यह क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने से भी अधिक सुरक्षित है, जिसके परिणामस्वरूप शुल्कवापसी हो सकती है। यदि आप वायर ट्रांसफर के साथ बिटकॉइन खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो फीस और शर्तों को ध्यान से पढ़ें, और एक वैकल्पिक बैंक खाता स्थापित करना सुनिश्चित करें। यदि आप अनिश्चित हैं, तो क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने पर विचार करें।

बिटकॉइन समुदायों का जवाब है

ग्वाटेमाला में अब मध्य अमेरिका में सबसे कम मुद्रास्फीति नहीं है, क्योंकि जुलाई में इसकी मुद्रास्फीति दर पिछले 13 वर्षों में उच्चतम स्तर पर पहुंच गई थी। जीवन की लागत में वृद्धि का सामना करते हुए, कुछ स्थानीय समुदायों ने अपना असंतोष व्यक्त करना शुरू कर दिया है, अपने पैसे […]

रेटिंग: 4.19
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 643
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *