विदेशी मुद्रा विश्वकोश

शेयर बाजार कैसे काम करता है?

शेयर बाजार कैसे काम करता है?
शेयर बाजार में नुकसान से बचने के लिए हम नीचे दिए कुछ महत्त्वपूर्ण टिप आजमा सकते हैं:-

Share-market-chart-kaise-samjhe

Share market chart kaise samjhe | शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस

Share market chart kaise samjhe– दोस्तों अगर आपको सही समय पर अच्छा मुनाफा कमाई करना है तो शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस करना जरुर आना चाहिए। इससे आप कम समय में ही अपने नुकशान को कम करके बहुत अच्छा रिटर्न कमाई कर चकते हो।

अगर आप बिना सीखे शेयर मार्केट में ट्रेडिंग या इन्वेस्टमेंट करते हो तो आप एकतरह से जुआ खेल रहे हो इससे आपको नुकशान होने की संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाता हैं। आपको पता होना चाहिए कब स्टॉक को खरीदना चाहिए और कब प्रॉफिट कमाई करके बेचना चाहिए।

इसी को जानने के लिए आपको Share Market के चार्ट को अच्छी तरह समझना बहुत जरुरी हैं। क्यूंकि इसी से ही आपको पता लगेगा स्टॉक ऊपर या नीचे जाने की कितने ज्यादा संभावना हैं।

Share market chart kaise samjhe

ज्यादातर रिटेल निवेशक किसी भी चार्ट को खोलते ही उनके मन में इस चार्ट में देखे किया और शुरु कहा से करे ये सवाल जरुर आता हैं। शेयर मार्केट में किसी भी चार्ट को समझने के लिए सबसे पहले बहुत ज्यादा अभ्यास की जरुरत पड़ती हैं। उसके बाद ही काम आएगा आपका विश्लेषणात्मक कौशल जो आपको प्रयोग करना होगा उस चार्ट में।

Chart का Trend देखना चाहिए:- किसी भी स्टॉक के चार्ट अच्छी तरह से समझने के लिए आपका सबसे पहला काम होना चाहिए उस शेयर के Trend किस तरफ जा रहा हैं। उसको अच्छी तरह से देखना बहुत जरुरी हैं। वैसे तो चार्ट में 3 तरह का Trend देखने को मिलेगा। इन तीनो Trend के अन्दर से कोई ना कोई एक Trend में शेयर बाजार कैसे काम करता है? वो स्टॉक या Chart जरुर फॉलो कर रहा होगा। और इन ट्रेन्ड में काम करने के शेयर बाजार कैसे काम करता है? तरीका भी अलग अलग होता हैं।

  • Up Trend:- इस Trend का मतलब है Higher Top and Higher Bottom। जब भी चार्ट इस Trend को फॉलो करेगा आपको लगातार स्टॉक सीढ़ी की तरह ऊपर जाते ही नजर आएगा। तब आपको हमेसा उस स्टॉक को खरीदना चाहिए।

शेयर मार्केट चार्ट कैसे समझे और कमाई

रिस्क और रिवॉर्ड विश्लेषण:- अगर आप ऊपर दिए गए स्टेप को फॉलो करके कोई चार्ट को सेलेक्ट किया हो तो आपको उस चार्ट का Support और Resistant को ध्यान से देखना चाहिए। उसके बाद आपका Stop Loss वोही होना चाहिए जहा उस चार्ट ने हाल ही में कोई Support लेके ऊपर की तरफ गया हैं।

जहा पर Support लिया है स्टॉक ने, वहा आपको Stop Loss लगाना चाहिए। लेकिन ध्यान में रखना चाहिए आपका Stop Loss बहुत दूर ना हो। अगर आपको लगता है की रिस्क बहुत कम है और रिवॉर्ड बहुत ज्यादा मिल चकता है तभी आपको उस चार्ट में ट्रेड लेना चाहिए।

पतियोगी स्टॉक के चार्ट:- आप जिस भी स्टॉक के चार्ट को सेलेक्ट किया हो बाकि पतियोगी कंपनी को भी देखना चाहिए कैसा पदर्शन कर रहा हैं। आपको ध्यान में रखना चाहिए वो स्टॉक उस सेक्टर में बाकि पतियोगी कंपनी से बेहतर शेयर बाजार कैसे काम करता है? पदर्शन दिखा रहा हैं।

शेयर बाजार क्या है और कैसे काम करता है

जब भी हम किसी बाज़ार की कल्पना करते है तो हमारे दिमाग में किसी ऐसी जगह की इमेज बनती है
जहाँ बहुत-सी दुकानें होंगी या कोई मॉल जहां जाकर आप खरीदारी कर सकते हैं मगर शेयर बाजार ऐसा
बाजार नहीं है. शेयर बाजार में खरीदने और बेचने का काम पूरी तरह से कंप्यूटर द्वारा ऑटोमेटिक तरीके से होता है. कोई भी शेयर खरीदने या बेचने वाला अपने ब्रोकर के द्वारा एक्सचेंज पर अपना आर्डर देता है
और पलक झपकते ही पेंडिंग आर्डरों के अनुसार ऑटोमेटिकली सौदे का मिलान हो जाता है.

शेयर बाजार में काम के घंटों में ब्रोकर अपने ग्राहकों के लिए उनके द्वारा दिए गए आर्डर टर्मिनल में
डाल देते हैं. इसके बदले में ब्रोकर को ब्रोकरेज या दलाली मिलती है.

हम कह सकते हैं कि मुख्यतः शेयर बाजार की तीन कड़ियाँ हैं स्टॉक एक्सचेंज, ब्रोकर और निवेशक.
ब्रोकर स्टॉक एक्सचेंज के सदस्य होते है और केवल वे ही उस स्टॉक एक्सचेंज में ट्रेडिंग कर सकते हैं. ग्राहक सीधे जाकर शेयर खरीद या बेच नहीं सकते उन्हें केवल ब्रोकर के जरिए ही जाना पड़ता है.

शेयर बाजार में निवेश का एकदम नया तरीका है Smallcase, मिलती हैं ढेरों सुविधाएं

Share Market Investment

शेयर मार्केट (Share Market) में निवेश के लिए नए-नए तरीके लोगों के सामने आ रहे हैं. स्मॉलकेस (Smallcase) एक ऐसा ही प्रोडक्ट है जो कि शेयर बाजार में निवेश के बेहतरीन तरीके के रूप में चर्चित हो रहा है. बता दें कि जुलाई 2015 में IIT खड़गपुर के तीन छात्रों ने नए जमाने के शेयर निवेशकों को ध्यान में रखकर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते हुए स्मॉलकेस की स्थापना की थी. स्मॉलकेस ने मौजूदा समय में देश शेयर बाजार कैसे काम करता है? के तकरीबन सभी बड़े ब्रोकरेज हाउसेज के साथ समझौता किया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पिछले 3 साल में स्मॉलकेस का ट्रांजैक्शन वॉल्यूम 300 गुना बढ़ चुका है. इस रिपोर्ट में स्मॉलकेस क्या है और यह काम कैसे करता है इसको समझने की कोशिश करेंगे.

शेयर बाजार क्या है | Share Market Basics In Hindi, Types Of Share Market

इस पोस्ट में हम Share Market याने शेयर बाजार की जानकारी जानेंगे, जैसे की, What is share market, Share market basics in hindi, शेयर बाजार क्या है, शेयर बाजार कितने प्रकार के होते है, Types of share market और शेयर मार्केट में पैसा कब और कैसे invest करना चाहिए, Stock market in hindi, इत्यादि।

उद्योग या व्यवसाय चलाने के लिए जो कैपिटल होना जरूरी है, वह उन्हें शेयर बाजार से मिलता है। यह शेयर बाजार किसी भी विकसित देश की अर्थव्यवस्था का महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। तो दोस्तों निचे हम Share Market, शेयर बाजार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी जानेंगे।

stock market in hindi, share market basics in hindi, share market kya hai in hindi, share market tips in hindi, what is share market in hindi, शेयर मार्केट टिप्स, types of share market in hindi, share market kya hai, sheyar market in hindi, शेयर बाजार क्या है, types of shares in hindi, शेयर बाजार क्या होता है, शेयर कितने प्रकार के होते हैं, share market for beginners in hindi, शेयर मार्केट क्या है, स्टॉक मार्केट क्या है,

शेयर बाजार क्या है – What Is Share Market In Hindi?

Share Market में शेयर को ख़रीदा और बेचा जाता है। Share का मतलब “हिस्सा” या “भाग” होता है, परन्तु शेयर बाजार की भाषा में बात करे तो Share का अर्थ होता है कंपनियों का हिस्सा लेना, किसी कंपनी का शेयर खरीदना याने उस कंपनी का हिस्सेदार या भागीदार बन जाना।

शेयर मार्केट को स्टॉक मार्केट भी कहा जाता है, इसके माध्यम से आम आदमी भी छोटे-बड़े उद्योग या व्यवसाय मे अपनी भागीदारी कर सकता है। लेकिन किसी को Share Market बहुत फायदा हो जाता है या फिर किसी को उसकी बहुत बड़ी कीमत भी चुकानी पडती है यानि नुकसान भी हो जाता है।

Share Market में किसी को शेयर की कीमत में मांग और आपूर्ति के सिद्धांत की वजह से उतार-चढ़ाव आ जाता है। शेयर को खरीदने के लिए अगर ज्यादा व्यक्ति रहे तो शेयर की कीमत बढ़ जाती है और जब शेयर को बेचने वाले की संख्या ज्यादा हो तो कीमत घटती जाती है।

शेयर मार्केट के प्रकार – Types Of शेयर बाजार कैसे काम करता है? Share Market In Hindi

शेयर मार्केट के मुख्यतः Primary Share Market और Secondary Share Market यह दो प्रकार होते है, इसका सविस्तर विश्लेषण नीचे दिया गया है:

Primary Share Market – प्राथमिक शेयर मार्केट

Primary Share Market यह शेयर मार्केट का पहला प्रकार है। सबसे पहले कंपनी अपने शेयर्स की स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टिंग करवाकर अपने शेयर को बेचती है, पर इसके लिए उन्हें पहले IPO (Initial Public Offering) लाना पड़ता है।

इसमे IPO लाने के बाद तय किये गये मूल्य पर अपने शेयर पब्लिक को ख़रीदने के लिए उपलब्ध किये जाते है। कंपनियां प्राथमिक बाजार के माध्यम से निवेशकों तक पहुँचने के लिए स्टॉक एक्सचेंज जैसे BSE, NSE और ब्रोकर की मदद लेते हैं।

किसी कंपनी को IPO (Initial Public Offering) के लिए जाना है, तो उस समय उसको पूरी जानकारी देनी होती है जैसे की, Promoters, Financials, Businesses, अपने शेयर या स्टॉक और उनकी कीमत आदि।

शेयर बाजार में इन्वेस्टमेंट कैसे करें – How To Invest In Share Market

How to Money Invest in Share Market: शेयर शेयर बाजार कैसे काम करता है? मार्केट में हम पैसा इन्वेस्ट तो करना चाहते है, पर इन्वेस्ट करने से पहले ही हमारे सामने बहुत से सवाल खड़े हो जाते हैं जैसा कि, हमे कहां निवेश याने Invest करना चाहिए और कैसे करना है या Invest करने पर हमारे साथ कोई धोखा तो नहीं होगा। इन सब बातो का ख्याल रखकर ही शेयर बाजार में हम आसानी से निवेश कर सकते हैं।

1. Share Market में आने के लिए आपको स्टॉक ब्रोकर, शेयर्स को होल्ड करने के लिए Demat Account और शेयर्स को रोज खरीदने और बेचने के लिए ट्रेडिंग अकाउंट की जरूरत होती है। तो सबसे पहले इन जरूरतों को पूरा करने के लिए आपको स्टॉक ब्रोकर ऐसा चुनना चाहिए, जो शेयर बाजार कैसे काम करता है? कम से कम कमीशन ले और आपको अच्छी सेवा भी प्रदान करे।

2. शेयर बाजार को एक बिज़नेस की तरह समझना चाहिए और आपको उसी कंपनी का शेयर ख़रीदना है, जिसका बिज़नेस अच्छा हो और आपको समझ में आये।

कुछ सवाल जो आपके दिमाग में आ सकते हैं

शेयर मार्केट में पैसे क्यों डूब जाते हैं?

पैसे डूबने का सबसे बड़ा कारण है हमें शेयर मार्केट की समझ नहीं होना, ऐसे में हम नुकसान कर लेते हैं. हम बिना किसी रिसर्च के शेयर मार्केट में पैसे लगा देते हैं और फिर नुकसान हो जाता है तो शेयर बाजार को दोष दे देते हैं.
जिस कंपनी के शेयर खरीदना चाहते हैं उसके बारे में सभी जानकरी जुटाए फिर ही उसके शेयर खरीदे. इसके बारे में ज्यादा जानने के लिए ये आर्टिकल पढ़ें

शेयर मार्केट में हर बार फायदा कैसे कमायें?

शेयर मार्केट में हम पूरी रिसर्च के साथ 10 या अधिक कंपनियों में हमारा पैसा लगायेंगे तो कभी नुकसान नहीं होगा, इससे हमें हर बार फायदा होगा. अगर 10 में से 3 कंपनी नुकसान देती भी है तो बाकी की 7 कंपनी के शेयर आपको फायदा दिलाएंगी ही अगर आपने पूरी रिसर्च करके शेयर खरीदे हैं.

शेयर कब खरीदे की फायदा हो?

शेयर खरीदने का कोई दिन या समय नहीं होता है. अगर आप लम्बे समय केलिए पैसे इन्वेस्ट कर रहे हैं तो शेयर जब मन करे तब खरीदे. कब खरीदने से ज्यादा जरूरी है किस कंपनी के शेयर खरीदे. इसके लिए आपको कंपनीज की लिस्ट बनाकर उनपर रिसर्च करनी चाहिए और फिर कुछ कंपनी को चुनकर उनक ही शेयर खरीदने चाहिए.
अधिक जानने के लिए आर्टिकल पढ़ें

रेटिंग: 4.19
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 685
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *