रणनीति व्यापार

तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन

तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन

अमीर बनने की चाह में गई गाढ़ी कमाई, तीन महीने में ही Bitcoin की हो गई आधी कीमत

Bitcoin ने नवंबर, 2021 में अपने सबसे उच्चतम स्तर को छुआ था. तब से अब तक केवल Bitcoin की वैल्यू में 600 अरब डॉलर और पूरे क्रिप्टो मार्केट के वैल्यूएशन में एक लाख करोड़ डॉलर की कमी आ चुकी है.

Bitcoin

aajtak.in

  • नई दिल्ली,
  • 23 जनवरी 2022,
  • (अपडेटेड 23 जनवरी 2022, 1:42 PM IST)
  • Bitcoin का मार्केट कैप 600 अरब डॉलर घटा
  • पूरे क्रिप्टो मार्केट को हुआ है नुकसान

बिटकॉइन (Bitcoin) के भाव में गिरावट का सिलसिला लगातार जारी है. Bitcoin की कीमत शनिवार को गिरावट के साथ 34,042 डॉलर तक आ गई थी जो नवंबर में एक समय में 69,000 डॉलर के करीब पहुंच गई थी. इस तरह देखा जाए तो Bitcoin में लगभग 3 महीने में करीब 50% की गिरावट आ चुकी है. इसका मतलब यह है कि बिटकॉइन में निवेश करने वाले लोगों की कुल संपत्ति नवंबर से अब तक आधी हो चुकी तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन है. दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी में इस भारी गिरावट की वजह से इसका मार्केट वैल्यू करीब 600 अरब डॉलर घट गया है.

क्रिप्टो तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन मार्केट को हुआ इतना नुकसान

Bitcoin ने नवंबर, 2021 में अपने सबसे उच्चतम स्तर को छुआ था. तब से अब तक केवल Bitcoin की वैल्यू में 600 अरब डॉलर और पूरे क्रिप्टो मार्केट के वैल्यूएशन में एक लाख करोड़ डॉलर की कमी आ चुकी है. Bitcoin और पूरे क्रिप्टो मार्केट में यह डॉलर टर्म में अब तक की दूसरी सबसे बड़ी गिरावट है.

प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी का अभी ये है हाल

Coinmarketcap के अनुसार पिछले 7 दिन में Bitcoin में 18.15 फीसदी की गिरावट आ चुकी है. यह अभी 35,324.46 डॉलर पर ट्रेंड कर रहा है. Etherum का भाव 2,500 डॉलर से नीचे आ चुका है. इसकी कीमत पिछले 7 दिन में करीब 26 फीसदी की गिरावट के साथ 2,460.94 डॉलर पर रह गई है. Binance में पिछले सात दिन में 24.17 फीसद की गिरावट आ चुकी है और यह 374.85 डॉलर पर आ गया है. Solana पिछले एक हफ्ते में 34.69 फीसदी की गिरावट के साथ 96.82 डॉलर पर आ गया है.

नौ माह के निचले स्‍तर पर आ गया है Dogecoin

मीम बेस्ड क्रिप्टोकरेंसी डॉजकॉइन (Dogecoin) की कीमत गिरकर 0.14 डॉलर के नीचे आ गई है. यह अप्रैल 2021 के बाद का इसका सबसे निचला स्‍तर है. Avalanche में एक हफ्ते में 32.77 फीसदी की गिरावट आई है. यह 62.13 डॉलर पर है.

गिरावट के बीच El Salvador के राष्ट्रपति ने कही ये बात

इसी बीच El Salvador के राष्ट्रपति Nayib Bukele ने बताया है कि उनके देश ने इस गिरावट के दौरान काफी बिटक्वाइन खरीदे हैं. Bukele को गिरावट के बीच बिटक्वाइन खरीदने के लिए जाना जाता है. उन्होंने ट्वीट किया है, "कुछ लोग सच में काफी सस्ते में बेच रहे हैं."

क्रिप्टो कंपनी एफ़टीएक्स के डूबने पर घिरे भारतीय मूल के निषाद सिंह कौन हैं?

निषाद सिंह

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टो एक्सचेंज कंपनी एफ़टीएक्स (FTX) महज़ एक हफ्ते में अर्श से फर्श पर पहुंच गई. 'क्रिप्टो किंग' के नाम से मशहूर एफ़टीएक्स के संस्थापक सैम बैंकमैन-फ्रायड ने कंपनी के चीफ़ एक्जीक्यूटिव पद से इस्तीफ़ा दे दिया है. एफ़टीएक्स की प्रतिद्वंद्वी कंपनी बाइनेंस ने इसे खरीदने की इच्छा जताई है.

अरबों के मालिक सैम अब जांच एजेंसियों की नज़र में हैं. एफ़टीएक्स ने अदालत में अर्जी देकर खुद को दिवालिया घोषित करने की अपील की. लेकिन एफ़टीएक्स के डूबने में अकेले सैम बैंकमैन ही नहीं कई और लोग भी जांच एजेंसियों के निशाने पर हैं.

इनमें से एक नाम है निषाद सिंह.

भारतीय मूल के निषाद सिंह एफ़टीएक्स और इसकी दूसरी कंपनी अलमेडा का हिस्सा रहे तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन हैं. एफ़टीएक्स की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, निषाद सिंह कंपनी के डायरेक्टर ऑफ़ इंजीनियरिंग पद पर हैं.

कौन हैं निषाद सिंह?

एफ़टीएक्स की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, निषाद सिंह ने बर्कले में यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया से पढ़ाई की. उन्होंने अच्छे अंकों के साथ यहां से डिग्री हासिल की.

एफ़टीएक्स में आने से पहले वो फ़ेसबुक में बतौर सॉफ्टवेयर इंजीनियर काम करते थे. यहां वो मशीन लर्निंग पर काम कर रहे थे. निषाद ने फ़ेसबुक में महज पांच महीने काम किया.

भारतीय मूल के निषाद सिंह ने दिसंबर 2017 में एफ़टीएक्स की दूसरी कंपनी अलमेडा रिसर्च ज्वाइन की.

यहां उन्होंने करीब डेढ़ साल तक बतौर इंजीनियर काम किया और बाद में 2019 में वो एफ़टीएक्स से बतौर इंजीनियरिंग डायरेक्टर जुड़े.

कंपनी पर लग रहे आरोप

इमेज स्रोत, ftxfoundation

निषाद सिंह ने 2020 में एफ़टीएक्स पॉडकास्ट में अपने बारे में कुछ चीज़ें साझा की थीं. इसमें उन्होंने बताया था फ़ेसबुक में वो अपनी 'ड्रीम जॉब' कर रहे थे. लेकिन एक अपार्टमेंट में उनकी मुलाक़ात सैम बैमकमैन-फ्रायड से हुई और उन्होंने अलमाडा रिसर्च ज्वाइन करने का फ़ैसला किया.

उन्होंने आगे कहा, ''तब यह अपार्टमेंट ही था. ये बहुत शुरुआती दिन थे. मुझे लगता है मैं पहली बार अलमेडा तब आया जब शायद इस कंपनी को बने हुए एक महीना होने को था. अपार्टमेंट में कुछ पांच लोग रहे होंगे लेकिन बहुत शोरशराबे से भरा था. तब तक मुझे ट्रेडिंग के बारे में कुछ नहीं पता था.''

समाचार एजेंसी रॉयटर्स की एक ख़बर के मुताबिक, एफ़टीएक्स के संस्थापक और पूर्व सीईओ सैम बैंकमैन-फ्रायड ने बेहद गोपनीय तरीके से एफ़टीएक्स के ग्राहकों के 10 अरब डॉलर अलमेडा में ट्रांसफ़र कर दिए.

द वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि अलमेडा रिसर्च की सीईओ और एफ़टीएक्स के सीनियर पदाधिकारियों को इस बात की जानकारी थी अलमेडा की मदद के लिए एफ़टीएक्स के ग्राहकों का पैसा इधर ट्रांसफ़र किया गया.

अलमेडा रिसर्च इस जून से आर्थिक तंगी की हालत में थी. कंपनी ने निवेश के लिए काफ़ी लोन लिया हुआ था.

रिपोर्ट में कुछ कंपनी कर्मचारियों के हवाले से दावा किया गया है कि क्रिप्टो करेंसी हेज फंड थ्री एरो कैपिटल के जून में डूबने के बाद अलमेडा को कर्ज देने वालों के सामने मुश्किल होने लगी.

कर्ज देने वालों ने अपने पैसे मांगने शुरू कर दिए जिससे वायेजर डिजिटल लिमिटेड जैसे क्रिप्टो ब्रोकरों को नुकसान हुआ.

रिपोर्ट के मुताबिक, अलमेडा की सीआईओ कैरोलीन एलिसन ने बुधवार को कर्मचारियों के साथ बैठक में इस बात का ज़िक्र किया कि एफ़टीएक्स के ग्राहकों का पैसा अलमेडा में ट्रांसफर करने की जानकारी सैम बैंकमैन के अलावा एफटीक्स के दूसरे पदाधिकारियों निषाद सिंह और गैरी वांग को भी थी.

गैरी वांग पहले गूगल में काम करते थे फिर बाद में उन्होंने सैम के साथ मिलकर एफ़टीएक्स को आगे बढ़ाया. वो एफ़टीएक्स में चीफ़ टेक्नोलॉजी ऑफिसर हैं.

एफ़टीएक्स के संस्थापक सैम बैंकमैन-फ़ायड सोशल मीडिया पर काफ़ी लोकप्रिय रहे हैं.

अमीर बनने की चाह में गई गाढ़ी कमाई, तीन महीने में ही Bitcoin की हो गई आधी कीमत

Bitcoin ने नवंबर, 2021 में अपने सबसे उच्चतम स्तर को छुआ था. तब से अब तक केवल Bitcoin की वैल्यू में 600 अरब डॉलर और पूरे क्रिप्टो मार्केट के वैल्यूएशन में एक लाख करोड़ डॉलर की कमी आ चुकी है.

Bitcoin

aajtak.in

  • नई दिल्ली,
  • 23 जनवरी 2022,
  • (अपडेटेड 23 जनवरी 2022, 1:42 PM IST)
  • Bitcoin का मार्केट कैप 600 अरब डॉलर घटा
  • पूरे क्रिप्टो मार्केट को हुआ है नुकसान

बिटकॉइन (Bitcoin) के भाव में गिरावट का सिलसिला लगातार जारी है. Bitcoin की कीमत शनिवार को गिरावट के साथ 34,042 डॉलर तक आ गई थी जो नवंबर में एक समय में 69,000 डॉलर के करीब पहुंच गई थी. इस तरह देखा जाए तो Bitcoin में लगभग 3 महीने में करीब 50% की गिरावट आ चुकी है. इसका मतलब यह है कि बिटकॉइन में निवेश करने वाले लोगों की कुल संपत्ति नवंबर से अब तक आधी हो चुकी है. दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी में इस भारी गिरावट की वजह से इसका मार्केट वैल्यू करीब 600 अरब डॉलर घट गया है.

क्रिप्टो मार्केट को हुआ इतना नुकसान

Bitcoin ने नवंबर, 2021 में अपने सबसे उच्चतम स्तर को छुआ था. तब से अब तक केवल Bitcoin की वैल्यू में 600 अरब डॉलर और पूरे क्रिप्टो मार्केट के वैल्यूएशन में एक लाख करोड़ डॉलर की कमी आ चुकी तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन है. Bitcoin और पूरे क्रिप्टो मार्केट में यह डॉलर टर्म में अब तक की दूसरी सबसे बड़ी गिरावट है.

प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी का अभी ये है हाल

Coinmarketcap के अनुसार पिछले 7 दिन में Bitcoin में 18.15 फीसदी की गिरावट आ चुकी है. यह अभी 35,324.46 डॉलर पर ट्रेंड कर रहा है. Etherum का भाव 2,500 डॉलर से नीचे आ चुका है. इसकी कीमत पिछले 7 दिन में करीब 26 फीसदी की गिरावट के साथ 2,460.94 डॉलर पर रह गई है. Binance में पिछले सात दिन में 24.17 फीसद की गिरावट आ चुकी है और यह 374.85 डॉलर पर आ गया है. Solana पिछले एक हफ्ते में 34.69 फीसदी की गिरावट के साथ 96.82 डॉलर पर आ गया है.

नौ माह के निचले स्‍तर पर आ गया है Dogecoin

मीम बेस्ड क्रिप्टोकरेंसी डॉजकॉइन (Dogecoin) की कीमत गिरकर 0.14 डॉलर तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन के नीचे आ गई है. यह अप्रैल 2021 के बाद का इसका सबसे निचला स्‍तर है. Avalanche में एक हफ्ते में 32.77 फीसदी की गिरावट आई है. यह 62.13 डॉलर पर है.

गिरावट के बीच El Salvador के राष्ट्रपति ने कही ये बात

इसी बीच El Salvador के राष्ट्रपति Nayib Bukele ने बताया है कि उनके देश ने इस गिरावट के दौरान काफी बिटक्वाइन खरीदे हैं. Bukele को गिरावट के बीच बिटक्वाइन खरीदने के लिए जाना जाता है. उन्होंने ट्वीट किया है, "कुछ लोग सच में काफी सस्ते में बेच रहे हैं."

Gold Silver Price Outlook: सोने और चांदी में लौटी चमक की वजह क्या है? अब आगे भाव गिरेंगे या नहीं - जानिए एक्सपर्ट का नजरिया

बुलियन मार्केट में आई तेजी की मुख्य वजह डॉलर इंडेक्स में गिरावट रही. अमेरिकी डॉलर इंडेक्स 12 हफ्ते के निचले स्तर 106.41 पर लुढ़क गया है. इंडेक्स में अमेरिकी डॉलर, यूरो, येन, पाउंड और कनेडियन डॉलर के मुकाबले कमजोर हुआ है. इसके अलावा क्रिप्टो करेंसी में आई तेज गिरावट से भी गोल्ड-सिल्वर की कीमतों को सपोर्ट मिला है.

Gold Silver Price Today: सोने-चांदी की कीमतों में बीते हफ्ते तेज उछाल देखने को मिली. MCX पर सोने की कीमत (Gold Price) हफ्तेभर में करीब 3 फीसदी बढ़ी. वहीं चांदी भी 2 फीसदी तक उछली. इसकी वजह इंटरनेशनल मार्केट में सोने और चांदी की कीमतों में आई तेजी रही. इंटरनेशनल मार्केट में सोना 5.4 फीसदी चढ़कर 1771 डॉलर प्रति औंस और चांदी 4 फीसदी महंगा होकर 21.70 तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन डॉलर प्रति औंस के पास पहुंच गया है.

डॉलर इंडेक्स में गिरावट से चमका सोना

बुलियन मार्केट में आई तेजी की मुख्य वजह डॉलर इंडेक्स में गिरावट रही. अमेरिकी डॉलर इंडेक्स 12 हफ्ते के निचले स्तर 106.41 पर लुढ़क गया है. इंडेक्स में अमेरिकी डॉलर, यूरो, येन, पाउंड और कनेडियन डॉलर के मुकाबले कमजोर हुआ है. इसके अलावा क्रिप्टो करेंसी में आई तेज गिरावट से भी गोल्ड-सिल्वर की कीमतों को सपोर्ट मिला है. बिटकॉइन बीते हफ्ते 24 फीसदी तक टूटकर 16000 डॉलर तक फिसल गया है, जो इसका नवंबर 2020 का सबसे निचला स्तर है.

महंगाई आंकड़ों में राहत से मिला सपोर्ट

सोने और चांदी में तेजी की मुख्य वजहों में अमेरिका महंगाई आंकड़ों में आई गिरावट भी शामिल है. सालाना आधार पर अमेरिका में महंगाई का आंकड़ा 9 महीने के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया है. ऐसे में केंद्रीय बैंक यानी फेडरल रिजर्व ब्याज दरों में होने वाली लगातार बढ़ोतरी को रोक सकता है. क्योंकि महंगाई पर लगाम कसने के लिए ही ब्याज दरों में बढ़ोतरी की जाती है. ऐसे तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन में उम्मीद की जा रही हैं कि फेड इस बार की MPC मीटिंग में दरों को न बढ़ाने का फैसला ले सकता है.

सोने और चांदी में जारी रहेगी तेजी

IIFL सिक्योरिटीज के अनुज गुप्ता के मुताबिक फिलहाल सोने और चांदी कीमतों में गिरावट की उम्मीद नहीं है. उम्मीद है कि अगले हफ्ते दोनों की कीमतें नई ऊंचाई को छू सकते हैं. ऐसे में ट्रेडर्स को सोने और चांदी पर खरीदारी की राय है. सोने के लिए 53000 रुपए प्रति 10 ग्राम का टारगेट और 51500 रुपए का स्टॉप लॉस होगा. वहीं चांदी के लिए गिरावट में खरीदारी की राय है. इसके लिए 63000 और 64000 रुपए प्रति किलो ग्राम का टारगेट है, जबकि 59000 रुपए का स्टॉप लॉस है.

Bitcoin Cryptocurrency: पिछले 6 माह में Bitcoin का सबसे खराब प्रदर्शन, एक माह के निचले स्तर पर पहुंचे रेट

Bitcoin Cryptocurrency: ऊपरी स्तरों से मुनाफावसूली की वजह से बिटकॉइन में पिछले 6 माह में सबसे खराब प्रदर्शन देखा गया. यह एक माह के निचले स्तर पर पहुंच गया.

Published: November 19, 2021 2:43 PM IST

Bitcoin Cryptocurrency: पिछले 6 माह में Bitcoin का सबसे खराब प्रदर्शन, एक माह के निचले स्तर पर पहुंचे रेट

Bitcoin Cryptocurrency: बिटकॉइन (Bitcoin) ने पिछले 6 माह में सबसे खराब प्रदर्शन किया है. यह शुक्रवार को एक महीने के निचले स्तर पर पहुंच गया. रायटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, बिटकॉइन में गिरावट ऊपरी स्तरों से मुनाफावसूली की वजह से देखी गई है. कारोबारियों को इस बात की चिंता सताने लगी कि क्रिप्टो एक्सचेंज माउंट गोक्स के लेनदार अपने भुगतान को समाप्त कर सकते हैं.

Also Read:

बाजार मूल्य के हिसाब से सबसे बड़ी क्रिप्टोक्यूरेंसी, बिटकॉइन एशिया में मध्य सत्र तक 1.6% गिरकर 55,980 डॉलर हो गया, जो अक्टूबर के मध्य से सबसे कम और पिछले सप्ताह के रिकॉर्ड उच्च स्तर से 20% नीचे कारोबार करता हुआ देखा गया.

सिंगापुर स्थित क्रिप्टो एसेट मैनेजर स्टैक फंड्स के मुख्य तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन परिचालन अधिकारी मैथ्यू डिब ने कहा, “बिक्री का दबाव काफी स्थिर रहा है, जो उम्मीद करता है कि यह तब तक जारी रह सकता है जब तक कि टोकन को लगभग 53,000 डॉलर का समर्थन नहीं मिल जाता.

इसके 50-दिनों के औसत के आधार पर, इस सप्ताह बिटकॉइन में अभी तक 14% की गिरावट देखी गई. जबकि, इस साल इसमें 90 फीसदी से ज्यादा का उछाल आते हुए देखा गया था.

डिब ने कहा कि टोक्यो की अदालत ने माउंट गोक्स के लेनदारों को चुकाने की योजना पर हस्ताक्षर करने के बाद लाभ लेने और अधिक बिक्री के बारे में चिंता की थी, एक क्रिप्टो एक्सचेंज जो 2014 में बिटकॉइन में आधा अरब डॉलर खोने के बाद ढह गया था.

बाजार मूल्य तीन महीने के निचले स्तर पर गिरा बिटकॉइन के हिसाब से दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोक्यूरेंसी ईथर, शुक्रवार को तीन सप्ताह के निचले स्तर 4,014 डॉलर के आसपास स्थिर थी, लेकिन इसमें 14% साप्ताहिक नुकसान देखा गया.

आर्थिक विकास, ब्याज दरों और मुद्रास्फीति के बारे में चिंताओं के बीच हाल के दिनों में वैश्विक बाजारों में मूड के रूप में ईथर और बिटकॉइन दोनों को भी नुकसान हुआ है.

OANDA के विश्लेषक एडवर्ड मोया ने कहा, “बिटकॉइन का दीर्घकालिक दृष्टिकोण तेज बना हुआ है.”

“लेकिन अगले कुछ महीनों में पानी कठिन होगा क्योंकि संस्थागत निवेशक यह देखना चाहते हैं कि क्या फेड को जल्द ही दरें बढ़ाने के लिए मजबूर किया जाएगा और बिटकॉइन सहित जोखिम भरी संपत्तियों की व्यापक-आधारित बिक्री को ट्रिगर किया जाएगा.”

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें व्यापार की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

रेटिंग: 4.35
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 274
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *