शीर्ष युक्तियाँ

क्रिप्टो बाजार में भूचाल

क्रिप्टो बाजार में भूचाल

क्रिप्टो मार्केट में भारी भूचाल, ज्यादातर करेंसियों के दाम में बड़ी गिरावट

गुरुवार को क्रिप्टो मार्केट में एक बार फिर बड़ा भूचाल आ गया। बीते दिनों से गिरावट का दौर झेल रहे क्रिप्टो बाजार में ज्यादातर करेंसियों के दाम में भारी गिरावट आई। दुनिया की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वाइन का हाल सबसे ज्यादा बेहाल दिखाई दे रहा है और यह 16 महीने के निचले स्तर पर पहुंच गई है। इसके अलावा क्रिप्टो बाजार में भूचाल टॉप-10 में शामिल सभी डिजिटल मुद्राएं लाल निशान पर कारोबार कर रही हैं।
बिटक्वाइन का दाम रह गया इतना
दुनिया की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वाइन में गिरावट का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार को आई जोरदार गिरावट ने निवेशकों को ऐसा झटका दिया कि उससे उबरना हाल-फिलहाल मुश्किल नजर आ रहा है। बता दें कि खबर लिखे जाने तक बीते 24 घंटों में बिटक्वाइन का दाम 10 फीसदी या 2 लाख 35 हजार रुपये से ज्यादा गिरकर सिर्फ 22,97,441 रुपये रह गया है।
इथेरियम 19 फीसदी तक टूटा
बिटक्वाइन के साथ ही टॉप-10 क्रिप्टोकरेंसी में दूसरी सबसे लोकप्रिय इथेरियम ने भी अपने निवेशकों को जोरदार झटका दिया है। इथेरियम का दाम 19 फीसदी या 35,356 रुपये टूट गया और यह क्रिप्टोकरेंसी गिरावट के साथ 1,56,476 रुपये की रह गई। बता दें कि बीते साल नवंबर में बिटक्वाइन और इथेरियम ने अपने ऑल टाइम हाई को छुआ था, और इसके बाद से ही इनमें इक्का-दुक्का दिनों को छोड़कर गिरावट जारी है। बिटक्वाइन की बात करें तो ये फिलहाल, अपने ऑल टाइम हाई से 55 फीसदी तक टूट चुका है।
बिनांस-रिपल-कार्डानो का हाल
गुरुवार क्रिप्टो बाजार के लिए काला दिन बनकर सामने आया है। बिटक्वाइन और इथेरियम के अलावा बिनांस क्वाइन 17.35 फीसदी टूटकर 20,क्रिप्टो बाजार में भूचाल 707 रुपये का रह गया है। वहीं रिपल की बात करें तो इसमें 26 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। इस भारी कमी के बाद रिपल का भाव 30.69 रुपये रह गया है। यहां कार्डानो का जिक्र भी जरूरी है। कार्डानो में बीते 24 घंटे में 27 फीसदी की कमी आई और यह 36.72 रुपये का रह गया, जबकि सोलाना का दाम 29 फीसदी से ज्यादा टूटकर 3,624 रुपये रह गया है।
शीबाइनु में सबसे बड़ी गिरावट
गुरुवार को जिन क्रिप्टोकरेंसी में गिरावट आई, उनमें सिर्फ टॉप-10 ही नहीं बल्कि मार्केट में मौजूद ज्यादातर डिजिटल मुद्राओं का बुरा हाल है। टॉप-10 में शामिल शीबा इनु क्वाइन में तो 31 फीसदी की गिरावट आई है और इसका दाम -0.000378 रुपये फिसलकर 0.000849 रुपये पर आ गया है। डॉजक्वाइन 25 फीसदी गिरकर 6.42 रुपये का हो गया है, वहीं पोल्काडॉट का भाव भी 25 फीसदी की कमी के साथ 659.31 रुपये का रह गया है। वहीं लाइटक्वाइन की कीमत 22.50 फीसदी गिरकर 4,978 रुपये पर पहुंच गई।
टेथर छोड़ सभी में आई गिरावट
टॉप-10 क्रिप्टोकरेंसी में शामिल टेथर क्वाइन ही एक मात्र ऐसी लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी रही जो गुरुवार को भी हरे निशान पर कारोबार करती हुई नजर आई। खबर लिखे जाने तक टेथर की कीमत 0.61 फीसदी या 0.50 रुपये की बढ़त के साथ 82.91 रुपये पर पहुंच गई थी। इसके अलावा क्रिप्टो बाजार में मौजूद अन्य क्रिप्टोकरेंसी की बात करें तो एवलॉन्च 25 फीसदी, पॉलीगोन 33 फीसदी, बिटक्वाइन कैश 28 फीसदी, यूनिस्वैप 23 फीसदी और बेबी डॉजक्वाइन 28 फीसदी तक टूट चुकी है।
-एजेंसियां

क्रिप्टो बाजार में भूचाल

G20 संयुक्त घोषणा में जोड़ा गया PM मोदी का 'आज का युग युद्ध का नहीं है' बयान, अमेरिका ने भी की जमकर तारीफ

FIFA World Cup 2022: भारत में भी छाया FIFA का खुमार, नदी के बीचों बीच लगाया Lionel Messi का कट आऊट | Watch Video

OPPO Reno 9 Series की लॉन्च डेट हुई अनाउंस, 16GB RAM, 512GB स्टोरेज और 80W फास्ट चार्जिंग के साथ आएंगे फोन!

AUS vs ENG 2nd ODI: Mitchell Starc की ये दो गेंद देख, सपने में भी रोएंगे इंग्लैंड के बल्लेबाज, देखें वीडियो

Jammu-Kashmir News: अनंतनाग में आतंकियों और सुरक्षा बलों में मुठभेड़ जारी, सेना ने की इलाके की घेराबंदी

हिंदू बता करवा दी मुस्लिम लड़की से शादी, दो बच्चों के बाद पत्नी बना रही धर्म परिवर्तन और खतना कराने का दबाव

Azgar Ka Video: बंदर को दबोचकर निगलने लगा अजगर, मगर वानरी सेना ने जो किया आंखें फटी रह जाएंगी- देखें वीडियो

Hera Pheri 3: अक्षय कुमार के 'हेरा फेरी 3' से बाहर होने पर परेश रावल ने किया रिएक्ट, बोले- मुझे मेरे से मतलब है

Money Remedy: मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए प्रतिदिन करें ये उपाय, जीवन में सुख- समृद्धि रहने की है मान्यता

Russia Ukraine War: यूक्रेन का दावा- गोलाबारी में मारे गए 60 रूसी सैनिक; एक सप्ताह में दूसरी बार पहुंचा नुकसान

Mahendra Singh Dhoni Car and Bike collection देखकर रह जाएंगे हैरान, गैराज में खड़ी हैं Ferrari से लेकर Ninja ZX14R

Petrol Diesel Price Today: तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितनी हैं आपके शहर में कीमतें

Cryptocurrency Crash: क्रिप्टो मार्केट में भारी भूचाल, बिटक्वाइन के साथ दूसरी करेंसियां भी गिरी औंधे मुंह

Crypto Market Crash Today : गुरुवार को क्रिप्टो मार्केट में एक बार फिर बड़ा भूचाल आ गया। बीते दिनों से गिरावट का दौर झेल रहे क्रिप्टो बाजार में ज्यादातर करेंसियों के दाम में भारी गिरावट आई। दुनिया की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वाइन का हाल सबसे ज्यादा बेहाल दिखाई दे रहा है और यह 16 महीने के निचले स्तर पर पहुंच गई है। इसके अलावा टॉप-10 में शामिल सभी डिजिटल मुद्राएं लाल निशान पर कारोबार कर रही हैं।

बिटक्वाइन का दाम रह गया इतना
दुनिया की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वाइन में गिरावट का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार को आई जोरदार गिरावट ने निवेशकों को ऐसा झटका दिया कि उससे उबरना हाल-फिलहाल मुश्किल नजर आ रहा है। बता दें कि खबर लिखे जाने तक बीते 24 घंटों में बिटक्वाइन का दाम 10 फीसदी या 2 लाख 35 हजार रुपये से ज्यादा गिरकर सिर्फ 22,97,441 रुपये रह गया है।

इथेरियम 19 फीसदी तक टूटा
बिटक्वाइन के साथ ही टॉप-10 क्रिप्टोकरेंसी में दूसरी सबसे लोकप्रिय इथेरियम ने भी अपने निवेशकों को जोरदार झटका दिया है। इथेरियम का दाम 19 फीसदी या 35,356 रुपये टूट गया और यह क्रिप्टोकरेंसी गिरावट के साथ 1,56,476 रुपये की रह गई। बता दें कि बीते साल नवंबर में बिटक्वाइन और इथेरियम ने अपने ऑल टाइम हाई को छुआ था, और इसके बाद से ही इनमें इक्का-दुक्का दिनों को छोड़कर गिरावट जारी है। बिटक्वाइन की बात करें तो ये फिलहाल, अपने ऑल टाइम हाई से 55 फीसदी तक टूट चुका है।

बिनांस-रिपल-कार्डानो का हाल
गुरुवार क्रिप्टो बाजार के लिए काला दिन बनकर सामने आया है। बिटक्वाइन और इथेरियम के अलावा बिनांस क्वाइन 17.35 फीसदी टूटकर 20,707 रुपये का रह गया है। वहीं रिपल की बात करें तो इसमें 26 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। इस भारी कमी के बाद रिपल का भाव 30.69 रुपये रह गया है। यहां कार्डानो का जिक्र भी जरूरी है। कार्डानो में बीते 24 घंटे में 27 फीसदी की कमी आई और यह 36.72 रुपये का रह गया, जबकि सोलाना का दाम 29 फीसदी से ज्यादा टूटकर 3,624 रुपये रह गया है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें।आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो पर सकते हैं

क्रिप्टो मार्केट में भारी भूचाल, ज्यादातर करेंसियों के दाम में बड़ी गिरावट

गुरुवार को क्रिप्टो मार्केट में एक बार फिर बड़ा भूचाल आ गया। बीते दिनों से गिरावट का दौर झेल रहे क्रिप्टो बाजार में ज्यादातर करेंसियों के दाम में भारी गिरावट आई। दुनिया की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वाइन का हाल सबसे ज्यादा बेहाल दिखाई दे रहा है और यह 16 महीने के निचले स्तर पर पहुंच गई है। इसके अलावा टॉप-10 में शामिल सभी डिजिटल मुद्राएं लाल निशान पर कारोबार कर रही हैं।

बिटक्वाइन का दाम रह गया इतना

दुनिया की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वाइन में गिरावट का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार को आई जोरदार गिरावट ने निवेशकों को ऐसा झटका दिया कि उससे उबरना हाल-फिलहाल मुश्किल नजर आ रहा है। बता दें कि खबर लिखे जाने तक बीते 24 घंटों में बिटक्वाइन का दाम 10 फीसदी या 2 लाख 35 हजार रुपये से ज्यादा गिरकर सिर्फ 22,97,441 रुपये रह गया है।

इथेरियम 19 फीसदी तक टूटा

बिटक्वाइन के साथ ही टॉप-10 क्रिप्टोकरेंसी में दूसरी सबसे लोकप्रिय इथेरियम ने भी अपने निवेशकों को जोरदार झटका दिया है। इथेरियम का दाम 19 फीसदी या 35,356 रुपये टूट गया और यह क्रिप्टोकरेंसी गिरावट के साथ 1,56,476 रुपये की रह गई। बता दें कि बीते साल नवंबर में बिटक्वाइन और इथेरियम ने अपने ऑल टाइम हाई को छुआ था, और इसके बाद से ही इनमें इक्का-दुक्का दिनों को छोड़कर गिरावट जारी है। बिटक्वाइन की बात करें तो ये फिलहाल, अपने ऑल टाइम हाई से 55 फीसदी तक टूट चुका है।

बिनांस-रिपल-कार्डानो का हाल

गुरुवार क्रिप्टो बाजार के लिए काला दिन बनकर सामने आया है। बिटक्वाइन और इथेरियम के अलावा बिनांस क्वाइन 17.35 फीसदी टूटकर 20,707 रुपये का रह गया है। वहीं रिपल की बात करें तो इसमें 26 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। इस भारी कमी के बाद रिपल का भाव 30.69 रुपये रह गया है। यहां कार्डानो का जिक्र भी जरूरी है। कार्डानो में बीते 24 घंटे में 27 फीसदी की कमी आई और यह 36.72 रुपये का रह गया, जबकि सोलाना का दाम 29 फीसदी से ज्यादा टूटकर 3,624 रुपये रह गया है।

शीबाइनु में सबसे बड़ी गिरावट

गुरुवार को जिन क्रिप्टोकरेंसी में गिरावट आई, उनमें सिर्फ टॉप-10 ही नहीं बल्कि मार्केट में मौजूद ज्यादातर डिजिटल मुद्राओं का बुरा हाल है। टॉप-10 में शामिल शीबा इनु क्वाइन में तो 31 फीसदी की गिरावट आई है और इसका दाम -0.000378 रुपये फिसलकर 0.000849 रुपये पर आ गया है। डॉजक्वाइन 25 फीसदी गिरकर 6.42 रुपये का हो गया है, वहीं पोल्काडॉट का भाव भी 25 फीसदी की कमी के साथ 659.31 रुपये का रह गया है। वहीं लाइटक्वाइन की कीमत 22.50 फीसदी गिरकर 4,978 रुपये पर पहुंच गई।

टेथर छोड़ सभी में आई गिरावट

टॉप-10 क्रिप्टोकरेंसी में शामिल टेथर क्वाइन ही एक मात्र ऐसी लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी रही जो गुरुवार को भी हरे निशान पर कारोबार करती हुई नजर आई। खबर लिखे जाने तक टेथर की कीमत 0.61 फीसदी या 0.50 रुपये की बढ़त के साथ 82.91 रुपये पर पहुंच गई थी। इसके अलावा क्रिप्टो बाजार में मौजूद अन्य क्रिप्टोकरेंसी की बात करें तो एवलॉन्च 25 फीसदी, पॉलीगोन 33 फीसदी, बिटक्वाइन कैश 28 फीसदी, यूनिस्वैप 23 फीसदी और बेबी डॉजक्वाइन 28 फीसदी तक टूट चुकी है।

Crypto Market: क्रिप्टोकरेंसी में भूचाल, भारी नुकसान, टेरा स्टेबल कॉइन ने गिराया बाजार

Cryptocurrency: क्रिप्टोकरेंसी बाजार में जबर्दस्त भूचाल के बीच एथेरियम की कीमत में नाटकीय रूप से गिरावट आई है। एथेरियम, दूसरी सबसे बड़ी डिजिटल कॉइन है प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी है।

Neel Mani Lal

Digital Currency

Digital Currency। (Social Media)

Crypto currency: क्रिप्टोकरेंसी बाजार (Cryptocurrency Market) में जबर्दस्त भूचाल के बीच एथेरियम की कीमत में नाटकीय रूप से गिरावट आई है। एथेरियम, दूसरी सबसे बड़ी डिजिटल कॉइन है प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी है। पिछले 24 घंटों में इसमें 20 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई है और इसकी कीमत 2,000 डॉलर से नीचे गिर गई है। क्रिप्टो बाजार में तगड़ी मार खाने वालों में अकेला इथेरियम ही नहीं है। पिछले 24 घंटों में बिटकॉइन (bitcoin) 12.5 प्रतिशत गिरा है, जो इसे 26,653 डॉलर तक ले गया है। ये 30,000 डॉलर के निशान से काफी नीचे है जिसे एक महत्वपूर्ण मनोवैज्ञानिक समर्थन के रूप में देखा जाता है।

पिछले 24 घंटों में लगभग 17 प्रतिशत गिरा क्रिप्टो बाजार

क्रिप्टो बाजार पिछले 24 घंटों में लगभग 17 प्रतिशत गिरा दिया है। छोटे कॉइन्स की कीमत में और भी अधिक गिरावट आई है। क्रिप्टो बाजारों में मौजूदा दहशत का एक हिस्सा टेरा क्रिप्टोकरेंसी की नाटकीय गिरावट का परिणाम है, जिसने अपना लगभग सभी मूल्य खो दिया है। दिसंबर 2020 के बाद से बिटकॉइन आखिरी दिन में 10 फीसदी तक गिरकर अपने सबसे निचले स्तर पर आ गया। क्रिप्टो बाजार में नरसंहार के और अधिक फैलने के संकेत हैं क्योंकि एशिया में क्रिप्टो-संबंधित स्टॉक भी चरमरा गए हैं। हांगकांग में सूचीबद्ध फिनटेक फर्म बीसी टेक्नोलॉजी ग्रुप लिमिटेड 6.7 फीसदी नीचे बंद हुआ। जापान का मोनेक्स ग्रुप इंक - जो ट्रेडस्टेशन और कॉइनचेक मार्केटप्लेस का मालिक है - 10 फीसदी नीचे चला गया।

जैसा कि दुनिया भर के केंद्रीय बैंक मुद्रास्फीति (central bank inflation) से लड़ने के लिए मौद्रिक नीति को आक्रामक रूप से सख्त करने के लिए आगे बढ़ते हैं, जोखिम वाली संपत्तियों से व्यापक उड़ान के बीच डिजिटल टोकन को बिक्री के दबाव का सामना करना पड़ा है। टेरा एक स्टेबल यानी स्थिर कॉइन है। स्टेबल कॉइन ऐसे डिजिटल टोकन हैं जो पारंपरिक संपत्ति के मूल्य से जुड़े होते हैं, जैसे कि अमेरिकी डॉलर। वे क्रिप्टो बाजारों में उथल-पुथल के समय में लोकप्रिय रहते हैं और अक्सर व्यापारियों द्वारा धन को इधर-उधर करने और अन्य क्रिप्टोकरेंसी पर अटकलें लगाने के लिए उपयोग किये जाते हैं। क्रिप्टोकरेंसी की इस नस्ल ने क्रिप्टो जगत का एक हिस्सा होने के लिए व्यापारियों के बीच सकारात्मक जगह बना ली है क्योंकि ये अपनी स्थिरता के लिए जाना जाता है। टेरा डॉलर के लिए अपने लिंक को बनाए रखने के लिए वित्तीय इंजीनियरिंग पर निर्भर है। इस स्थिर क्रिप्टो में इस तरह की भारी गिरावट बेहद चिंतनीय है।

टेरा दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्थिर कॉइन

टेरा की घटना क्रिप्टो उद्योग में दहशत का कारण बन रही है, क्योंकि टेरा दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्थिर कॉइन है। दुर्भाग्य से लेकिन टेरा अमेरिकी डॉलर के संदर्भ में स्थिर मूल्य बनाए रखने के अपने वादे को पूरा नहीं कर सका। क्रिप्टो बाजार के प्लेयर अभी भी टेरा के पतन के नतीजों का आकलन कर रहे हैं ताकि यह पता लगाया जा सके कि प्रमुख कंपनियां या निवेशक बुरी तरह नुकसान में आये हैं या नहीं।

व्यापक क्रिप्टो बाजार में भूचाल वित्तीय बाजारों में बिकवाली की पिछले घटनाओं के विपरीत, इस बार इन परिसंपत्तियों में बिक्री के दबाव ने दिखा दिया है कि वे बाजार की अस्थिरता के बीच एक भरोसेमंद निवेश हैं। एक एक्सपर्ट के मुताबिक क्रिप्टोकरेंसी बिकवाली बढ़ती मुद्रास्फीति और ब्याज दरों की चुनौतीपूर्ण पृष्ठभूमि से प्रेरित है, जिसने तकनीकी क्षेत्र के माध्यम से झटके दिए हैं। इसके साथ क्रिप्टो के पतन ने पुष्टि की है कि बिटकॉइन और अन्य आभासी मुद्राएं मुद्रास्फीति के खिलाफ बचाव के रूप में बहुत कम सफलता प्रदान करती हैं।

देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

रेटिंग: 4.77
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 499
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *