शीर्ष युक्तियाँ

अंतरराष्ट्रीय म्युचुअल फंड में निवेश क्यों करें

अंतरराष्ट्रीय म्युचुअल फंड में निवेश क्यों करें

बुरी खबर ! अब ये कंपनी बढ़ाने जा रही कारों की कीमत, जानिए अचानक क्यों बढ़ेंगे प्राइस…

Maruti Suzuki Price Hike: देश की सबसे बड़ी कार अंतरराष्ट्रीय म्युचुअल फंड में निवेश क्यों करें कंपनी मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) अगले साल की शुरुआत से अपनी कारों की कीमतें बढ़ाने की तैयारी कर रही है. कंपनी ने कहा कि महंगाई (Maruti Suzuki Price Hike) और हालिया नियमों की वजह से लागत में बढ़ोतरी के चलते उसे यह फैसला लेना पड़ा है. सितंबर तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ लगभग चार गुना बढ़कर 2,061 करोड़ रुपये से अधिक हो गया.

कंपनी ने रेग्युलेटरी फाइलिंग (egulatory filing) में कहा, ‘महंगाई और हालिया रेग्युलेटरी नियमों की वजह से कंपनी कॉस्ट प्रेशर बढ़ा अंतरराष्ट्रीय म्युचुअल फंड में निवेश क्यों करें रही है. इस वजह से कीमत बढ़ाकर इस बोझ को कुछ कम करना जरूरी हो गया है. कंपनी गले साल जनवरी से कीमत बढ़ाने की योजना बनाई है. यह कारों के मॉडल के हिसाब से अलग-अलग होगा.’ कुछ और ऑटोमोबाइल कंपनियां (automobile companies) भी अंतरराष्ट्रीय म्युचुअल फंड में निवेश क्यों करें अपनी कारों की कीमतें बढ़ा सकती हैं. दोपहिया वाहन अंतरराष्ट्रीय म्युचुअल फंड में निवेश क्यों करें निर्माता कंपनी हीरो मोटोकॉर्प (Hero MotoCorp) ने भी बाइक और स्कूटर की कीमतों (prices of bikes and scooters) में बढ़ोतरी का ऐलान किया है.

नवंबर में मारुति सुजुकी की बिक्री (Maruti Suzuki sales increased) बढ़कर करीब 1.60 लाख यूनिट हो गई. यह पिछले साल के इसी महीने की तुलना में करीब 15 फीसदी ज्यादा है. बलेनो और ग्रैंड विटारा के नए वेरिएंट (variants of Baleno and Grand Vitara) के लॉन्च से कंपनी को इस साल बिक्री बढ़ाने में मदद अंतरराष्ट्रीय म्युचुअल फंड में निवेश क्यों करें मिली है. पिछले महीने कंपनी की बिक्री 1,59,044 यूनिट रही थी. पिछले साल इसी महीने में यह 1,39,184 यूनिट थी. हालांकि, अक्टूबर में त्योहारी सीजन के दौरान करीब 1.67 लाख यूनिट्स की बिक्री की तुलना में यह कम है.

छोटी कार सेगमेंट में दबदबा बनाने के बाद कंपनी ने नई जनरेशन ब्रेजा जैसे लॉन्च के साथ एसयूवी पर फोकस करना शुरू कर दिया है. पिछले महीने कंपनी का निर्यात मामूली गिरावट के साथ 19,738 इकाई रहा था. पिछले साल इसी महीने में कंपनी ने 21,393 यूनिट्स का निर्यात किया था. मारुति सुजुकी के लिए शीर्ष अंतरराष्ट्रीय बाजारों में लैटिन अमेरिका, आसियान और मध्य पूर्व शामिल हैं.

कंपनी की डिजायर, स्विफ्ट, एस-प्रेसो और बलेनो जैसी कारों की विदेशों में काफी डिमांड है. कंपनी ने नई ग्रैंड विटारा को सितंबर में लॉन्च किया था. मिड साइज सेगमेंट में हाइब्रिड इंजन वाले वाहनों का कम विकल्प होने के कारण इसे ग्राहकों का अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है. कंपनी ने लगभग 40 साल पहले देश में कारोबार शुरू करने के बाद से 25 मिलियन यूनिट से अधिक का उत्पादन मील का पत्थर हासिल किया है. पैसेंजर व्हीकल प्रोडक्शन में इस आंकड़े तक पहुंचने वाली यह इकलौती भारतीय कंपनी है.

रेटिंग: 4.91
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 571
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *